What is the full form of history।history full form in hindi

Spread the love
5/5 - (1 vote)

What is the full form of history : इस पोस्ट में हम लोग इतिहास का फुल फॉर्म क्या होता है। इसके बारे में जानेंगे तथा इतिहास का क्या अर्थ है इन सभी के बारे में जाने हैं अक्सर देखा जाता है कि इससे संबंधित प्रश्न प्रतियोगिता परीक्षा में पूछे जाते हैं जहां भी स्टूडेंट कंफ्यूज हो जाते हैं कि इसका सही अर्थ और इसका क्या सही मतलब है तो इस का फुल फॉर्म जानने के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें और इसी तरह की पोस्ट पढ़ने के लिए हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने करें जिसका लिंग आपको नीचे मिल जाएगा

What is the full form of history

History शब्दअंग्रेजी के साथ अक्षरों से से बना है इन सभी साधक प्रो का अलग-अलग मतलब होता है

HHistorical humble ऐतिहासिक विनम्र
Iinterestingदिलचस्प
Sself assured आत्म विश्वासी
Ttactfulविनम्र
Oopen minded खुले विचारों वाला
RRefined परिष्कृत
Yyonderउधर

इतिहास का मतलब

  • तवारीख
  • पूर्णवृत
  • विवरण
  • वेदांत
  • ऐतिहासिक कहानी
  • ऐतिहासिक नाटक
  • इतिहास

प्राचीन भारतीय इतिहास का स्रोत

  • धर्म ग्रंथ
  • ऐतिहासिक ग्रंथ
  • विदेशियों का विवरण
  • पुरातत्व संबंधी साहब

भारत का इतिहास

उत्तर में हिमालय से लेकर दक्षिण में समुद्र तक फैला यह उपमहाद्वीप भारतवर्ष के नाम से ज्ञात है, जिसे महाकाव्य तथा पुराणों में भारतवर्ष अर्थात् ‘भरतो का देश तथा यहाँ के निवासियों को भारती अर्थात् भरत की संतान कहा गया है। भरत एक प्राचीन कबीले का नाम था। प्राचीन भारतीय अपने देश को जम्बूद्वीप, अर्थात् जम्बू (जामुन) वृक्षों का द्वीप कहते थे। प्राचीन ईरानी इसे सिन्धु नदी के नाम से जोड़ते थे, जिसे वे सिन्धु न कहकर हिन्दू कहते थे। यही नाम फिर पूरे पश्चिम में फैल गया और पूरे देश को इसी एक नदी के नाम से जाना जाने लगा चूनानी इसे इसे और अरब इसे हिन्द कहते थे। मध्यकाल में इस देश को हिन्दुस्तान कहा जाने लगा। यह शब्द भी फारसी शब्द “हिन्दू” से बना है। यूनानी भाषा के इवे के आधार पर अंग्रेज इसे “इंडिया” कहने लगे।

विध्य की पर्वत श्रृंखला देश को उत्तर और दक्षिण, दो भागों में बाँटती है। उत्तर में इंडो यूरोपीय परिवार की भाषाएँ बोलने वालों की और दक्षिण में द्रविड़ परिवार की भाषाएँ बोलने वालों का बहुमत है।

नोट: भारत की जनसंख्या का निर्माण जिन प्रमुख नस्लों के लोगों के मिश्रण से हुआ है, वे इस प्रकार हैं-प्रोटो आस्ट्रेलापड, पैलियो मेडिटेरेनियन, काकेशायड, निग्रोयड और मंगोलायड।

भारतीय इतिहास को अध्ययन की सुविधा के लिए तीन भागों में बाँटा गया है- प्राचीन भारत, मध्यकालीन भारत एवं आधुनिक भारत ।

नोट: सबसे पहले इतिहास को तीन भागों में बाँटने का श्रेय जर्मन इतिहासकार क्रिस्टोफ सेलियरस (Christoph Cellarius (1638 1707 AD)) को है।

भारतीय इतिहास से संबंधित प्रश्न

इतिहास का जनक कौन है

इतिहास का जनक का इतिहास का पिता हेरोडोस को कहा जाता हैं। हेरोडोस यूनान का प्रथम इतिहासकार एवं भूगोलवेत्ता ट्रेन उनका वास्तविक नाम मेड था हेरोडोस का संस्कृत अर्थ हरिदत्त होता है

इतिहास के कितने प्रकार होते हैं

इतिहास केेेेे निम्नलिखित प्रकार होते होते हैं संस्कृत इतिहास, सामाजिक इतिहास, धार्मिक इतिहास, राजनयिक इतिहास,आर्थिक इतिहास,संवैधानिक इतिहास,राजनीतिक इतिहास

इतिहास शब्द की उत्पत्ति कैसे हुई

इतिहास शब्द की उत्पत्ति ग्रीक शब्द historia हिस्टोरिया से हुई जिसका अर्थ होता है खोजना या जानना

इतिहास के कितने भाग होते हैं

इतिहास के 3 भाग होते हैं पहला प्राचीन कालीन इतिहास, मध्यकालीन इतिहास, आधुनिक कालीन इतिहास

इतिहास का अर्थ क्या है

इतिहास का अर्थ है कि किसी भी विषय में घटित घटना तथा उससे संबंधित अवधि का अध्ययन ध्यान से है

Important posts

भारतीय इतिहास के प्रमुख घटना एवं घटित वर्ष

प्रथम स्वतंत्रा संग्राम 1857

विजननगर से संबंधित जानकारी

प्राचीन इतिहास से संबंधित 100 प्रश्न

Leave a Comment