बौद्ध धर्म से जुड़े महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर।बौद्ध धर्म से संबंधित प्रश्न।

Spread the love
5/5 - (1 vote)

यहां आप बौद्ध धर्म से संबंधित प्रश्न का अध्ययन करेंगे,ये प्रश्न लगभग सभी परीक्षा में पूछे जाते है

बौद्ध धर्म से संबंधित अतिमहत्वपूर्ण प्रश्न

1. एशिया का ज्योति पुंज ( light of ashia) किसे कहा जाता है?

उत्तर– गौतम बुद्ध को

2. बोद्ध धर्म के संस्थापक कौन है?

उत्तर- गौतम बुद्ध

3.गौतम बुद्ध का जन्म कब और कहा हुआ?

उत्तर- गौतम बुद्ध का जन्म 563 ई. पू. में कपिलावस्तु के लुम्बिनी नामक स्थान पर हुआ

4. उनके पिता का नाम और वे क्या थे ?

उत्तर– गौतम बुद्ध के पिता का नाम सुद्धधन था वह गण के मुखिया थे

5. गौतम बुद्ध की माता का नाम क्या थे ?

उत्तर- मायादेवी

6. गौतम बुध के माता की मृत्यु कब हुई?

उत्तर- गौतम बुद्ध के जन्म के 7वें दिन बाद मायावती की मृत्यु हो गए

7.गौतम बुद्ध का लालन-पालन किसने किया ?

उत्तर- प्रजापति गौतमी ने

8. गौतम बुद्ध के बचपन का नाम क्या था ?

उत्तर- गौतम बुद्ध के बचपन का नाम सिद्धार्थ था

9. गौतम बुद्ध का विवाह किस उम्र में हुआ?

उत्तर- गौतम बुद्ध का विवाह 16 वर्ष की अवस्था में हुआ

10. गौतम बुद्ध की पत्नी का नाम क्या था ?

उत्तर- गौतम बुद्ध की पत्नी का नाम यशोधरा था ?


और कुछ जानें


11. गौतम बुद्ध के बेटे का क्या नाम था ?

उत्तर- राहुल

12. जब गौतम बुद्ध कपिलावस्तु से निकले तो उन्हें किन दृश्य को देखा ?

उत्तर– सिद्धार्थ जब कपिलावस्तु से निकले तो उन्हें क्रमशः चार दृश्य देखना पर (i) बूढ़ा व्यक्ति, (ii) एक बीमार व्यकि, (iii) शव और (iv) एक सन्यासी

13. गौतम बुद्ध ने कितनी वर्ष की अवस्था में घर-त्याग किया?

उत्तर– गौतम बुद्ध ने 29 वर्ष की अवस्था में घर का त्याग किया

14. महाभिनिष्क्रमण किसे कहा जाता है?

उत्तर- सांसारिक समस्याओ से व्यथित होकर सिद्धार्थ ने 29 वर्ष की अवस्था में गृह-त्याग किया, जिसे बोद्ध धर्म में महाभिनिष्क्रमण कहा जाता है

15. गौतम बुद्ध के प्रथम गुरु कौन थे?

उत्तर- आलारकलाम

16. गृह-त्याग करने के बाद सिद्धार्थ ने सर्वप्रथम कहा शिक्षा ली?

उत्तर- वैशाली में

17. वैशाली में भगवान बुद्ध ने क्या चीज की शिक्षा ली ?

उत्तर- वैशाली में भगवान बुद्ध ने सांख्य दर्शन की शिक्षा ली

18. वैशाली के बाद गौतम बुद्ध कहा शिक्षा लेने गये?

उत्तर- वैशाली के बाद गौतम बुद्ध राजगीर गए

19. राजगीर में भगवान बुद्ध ने किससे शिक्षा ली?

उत्तर- राजगीर में बागवान बुद्ध ने रिद्रकरामपुत्त से शिक्षा ली

20. उरूवेल में गौतम बुद्ध को पाँच साधक क्या-क्या मिले?

उत्तर- उरुवेला में गौतम बुद्ध को कौण्डिन्य, वप्पा, भेदिया, महानामा, एवं अस्सागी नामक पाँच साधन मिले है

21. गौतम बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ति कैसे हुई?

उत्तर-   बिना अन्न-जल ग्रह किये 6 वर्ष की कठिन तपस्या के बाद 35 वर्ष की अवस्था में में वैशाख की पूर्णिमा की रात निरंजन (फल्गु) नदी के किनारे ,पीपल के वृक्ष के नीचे ज्ञान की प्राप्ति हुई

22. ज्ञान प्राप्ति होने के बाद सिद्धार्थ किस नाम से जाने जानने लगे?

उत्तर– ज्ञान प्राप्ति के बाद सिद्धार्थ बुद्ध नाम के नाम से जाने गए

23. गौतम बुद्ध को जहाँ ज्ञान की प्राप्ति हुई वह स्थान क्या कहलाता है ?

उत्तर-   वह स्थान बोधगया कहलाता है

24. भगवान बुद्ध ने प्रथम उपदेश कहा दिया ?

उत्तर- भगवान बुद्ध ने प्रथम उपदेश सारनाथ (ऋषिपतनम) में दिया

25. बौद्ध ग्रंथो में धर्मचक्रप्रवर्तन किसे कहा जाता है

उत्तर- भगवान बुद्ध ने अपना पहला उपदेश सारनाथ में दिया जिसे बोद्ध ग्रंथ में धर्मचक्रप्रवर्तन कहा जाता है

24.बुद्ध ने अपना उपदेश किस भाषा में दिया ?

उत्तर- पाली भाषा में

25. भगवान बुद्ध ने सर्वाधिक उपदेश कहा दिए?

उत्तर- गौतम बुद्ध ने सर्वाधिक उपदेश कोशल देश की राजधानी श्री वस्ती में दिए

26. भगवान बुद्ध की मृत्यु कितनी वर्ष की अवस्था में हुई?

उत्तर- 80 वर्ष की अवस्था में

27. गौतम बुद्ध को महापरिनिर्वाण कब  प्राप्त हुआ?

उत्तर- गौतम बुद्ध को महापरिनिर्वाण 483 ई. पू. प्राप्त  हुआ

28. बागवान बुद्ध की मृत्यु के बाद उनकी शरीर की अवशेषों को कितने भागों में बांटा गया ?

उत्तर- 8 भागों में

29. बोद्ध धर्म के त्रिरत्न हैं?

उत्तर- बुद्ध, धम एवं संघ

30. बोद्ध धर्म में उपासक किसे कहते है?

उत्तर- गृहस्त जीवन व्यतीत करते हुए बौद्ध धर्म को अपनाने वाले को उपासक कहा जाता है

31. बोद्ध धर्म में सम्मिलित होने की न्यूनतम आयु क्या था ?

उत्तर– 15 वर्ष

32. क्या बौद्ध धर्म ईश्वर में की मान्यता थी ?

उत्तर- नहीं

33. बौद्ध धर्म में निर्वाण किसे कहा गया है?

उत्तर- बौद्ध धर्म में निर्वाण तृष्णा को क्षीण हो जाने की अवस्था को ही बुद्ध ने निर्वाण कहा है

34. भिक्षुक किसे कहा जाता है?

उत्तर- बौद्ध धर्म के प्रचार के लिए जिन्होंने सन्यास ग्रहण किया, उन्हें भिक्षुक कहते है

35. बौद्ध धर्म का प्रथम संगीति कब, कहा,किसके अध्यक्षता तथा किसके शासन काल में हुआ

उत्तर- प्रथम संगीति 483 ई. पर्व ,राजगृह,महाकश्यप की अध्ययन तथा अजातशत्रु के शासन काल में हुआ

36. द्वितीय बौद्ध संगीति कब,कहा,किसके अध्यक्षता तथा किसके शासन काल में हुआ?

उत्तर- द्वितीय बौद्ध संगीति 383 ई. पूर्व ,वैशाली नामक स्थान, सबाकामी की अध्यक्षता ,तथा कालाशोक के शासन काल में हुआ

37. तृतीय बौद्ध संगीति कब,कहा किसके अध्यक्षता तथा किसके शासन काल में हुआ

उत्तर- तृतीय बौद्ध संगीति 255 ई.पूर्व , पाटलिपुत्र नामक स्थान, मोग्गलीपुत्त तिस्स के अधयक्षता तथा अशोक के शासन काल में हुआ

38. चतुर्थ बौद्ध संगीति कब ,कहा ,किसके अध्यक्षता तथा किसके शासन काल में हुआ

उत्तर- चतुर्थ बौद्ध संगीति प्रथम ई. की शताब्दी ,कुंडल वन नामक स्थान ,वसुमित्र/ अश्वघोष,तथा कनिष्ठक के शासन काल में हुआ

39.चतुर्थ बौद्ध संगीति के बाद बोद्ध धर्म कितने भागों में बंटा था ?

उत्तर- चतुर्थ बौद्ध संगीति के बाद बौद्ध दहरम दो भागों में बंटा- (i) हीनयान और (ii) महायान

40. धार्मिक जुलुश का प्रारंभ किस धर्म के शुरू हुआ?

उत्तर- धार्मिक जुलुश का प्रारम्भ बौद्ध धर्म के हुआ

41. बौद्ध का सबसे पवित्र त्योहार है?

उत्तर- वैशाख पूर्णिमा

42. बुद्ध पूर्णिमा का महत्व क्या है?

उत्तर- बुद्ध  पूर्णिमा का महत्व इसलिए है की बुद्ध पूर्णिमा के दिन ही बुद्ध का जन्म ,ज्ञान की प्राप्ति,एवं महापरिनिर्वाण की प्राप्ति हुआ था

43. बुद्ध ने सांसारिक दुःखों का चार आर्य सत्यों का उपदेश दिया है वे उपदेश है?

उत्तर- (i)दुःख,(ii)दुःख समुदाय,(iii) दुःख निरोध, और(iv) दुःख निरोधगामिनी प्रतिपदा

44. भगवान बुद्ध ने सांसारिक दुखो से मुक्ति हेतु आठ मार्ग बताया है वे आठ मार्ग है?

उत्तर- भगवान बुद्ध ने सांसारिक दुखो से मुक्ति हेतु आठ मार्ग बताया वे मार्ग है- (i) सम्यक दृष्टि, (ii) सम्यक संकल्प, (iii) सम्यक वाणी ,(iv) सम्यक कर्मान्त , (v) सम्यक आजीव, (vi) सम्यक व्यायाम (vii) सम्यक स्मृति और (viii) सम्यक समाधि

45. बुद्ध ने निर्वाण प्राप्ति के दस शीलों पर बल दिया वे दस शील है?

उत्तर-

  • अहिंसा न करना
  • सत्य
  • चोरी न करना ( अस्तेय)
  • किसी प्रकार की सम्पति न रखना (अपरिग्रह )
  • मेघ सेवन न करना
  • असमय भोजन न करना
  • सूखप्रद बिस्तर पर न सोना
  • धन संचय न करना
  • स्त्रियों से दूर रहना
  • नृत्य- गान आदि से दूर रहना

Leave a Comment